04 नवंबर 2010

रौशनी की तलाश में

दख़ल विचार मंच की तरफ़ से आप सबको दीपावली की रौशन शुभकामनायें…आपकी ज़िंदगी और सपनों में और रौशनी भरे…


ख़ूब रौशन करें अपना घर लेकिन याद रखें कि दुनिया में करोड़ो घरों में अब भी अंधेरा है…अशिक्षा का, ग़रीबी का…करोड़ो आंखों में कोई सपना नहीं…करोड़ो लोगों की ज़िंदगी में कोई उम्मीद नहीं बची…

काश कि कोई दीवाली ऐसी आये जिसमें हर घर रौशन हो बराबर-बराबर…

12 टिप्‍पणियां:

राजकुमार ग्वालानी ने कहा…

हिन्दु, मुस्लिम, सिख, ईसाई
जब सब हैं हम भाई-भाई
तो फिर काहे करते हैं लड़ाई
दीवाली है सबके लिए खुशिया लाई
आओ सब मिलकर खाए मिठाई
और भेद-भाव की मिटाए खाई

DIMPLE SHARMA ने कहा…

बहुत अच्छा पोस्ट , आपको दीपावली की शुभकामनाये....
sparkindians.blogspot.com

Suman ने कहा…

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई

फ़िरदौस ख़ान ने कहा…

दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

प्रेम से करना "गजानन-लक्ष्मी" आराधना।
आज होनी चाहिए "माँ शारदे" की साधना।।

अपने मन में इक दिया नन्हा जलाना ज्ञान का।
उर से सारा तम हटाना, आज सब अज्ञान का।।

आप खुशियों से धरा को जगमगाएँ!
दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

लाएंगे ऐसा दिन
जरूर लाएंगे
दुनिया के हर मेहनतकश
घर दीवाली होगी

PADMSINGH ने कहा…

प्रकाश पर्व पर आपको ढेरों शुभकामनाएँ
दीपावलि उमंग उल्लास से मनाएं
आप ज्ञान दीपक से अंतर्जाल जगमगाएं
.....पद्मावलि की ओर से
पद्म सिंह
http://padmsingh.wordpress.com

संगीता पुरी ने कहा…

दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
जीवन में लाए खुशियां अपार।
लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ....

अनुपमा पाठक ने कहा…

hum kritsankalp ho har kone se andhera hatane ko!!!
shubhkamnayen!!!

अपूर्ण ने कहा…

रौशन करें हम जो दिवाली, ईद-होली में मिले गले ,
क्यों हो किसी दर पे अँधेरा , क्यों किसी का घर जले |

Dorothy ने कहा…

सामयिक और विचारोत्तेजक प्रस्तुति. आभार
सादर,
डोरोथी.