05 अक्तूबर 2009

वेरा के सवालों का जवाब क्या दूँ?




आज वेरा आठ साल की हो गयी...


आठ साल कितने होते हैं? अक्सर पूछती है तो समझ नही आता...बड़े बड़ों से बहस में उलझ जाने वाला मै उसके सामने अक्सर निरुत्तर हो जाता हूँ। वह पूछती है ,'' आप दोनों भगवान को क्यों नही मानते ' और हम दोनों सोचते हैं कि उसे क्या बताएं! वह पूछती है कि आप लोग ये सब क्यूं करते हो..ये भासन-वासन ? हम फिर सोचते हैं कि क्या बताएं ? ऐसे ही कल पूछ बैठी कि मेरे नाम में सरनेम क्यूं नही? सबमे तो है...अभी हम सोच रहे थे कि ख़ुद ही बोली आप ये जात-वात नही मानते ना ..इसीलिए? हम कुछ कहें उसके पहले ही एक और धमाका अच्छा बाबा मानते होंगे इसीलिए आपका सरनेम है!!!


देखिये शायद अगले जन्मदिन तक वह कुछ और सवालों के जवाब ढूंढ ले.



17 टिप्‍पणियां:

vijay gaur/विजय गौड़ ने कहा…

वेरा को मेरा ढेर सारा प्यार।

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

वेरा बिटिया को जन्मदिन की बहुत बहुत शुभकामनाएँ!
वेरा के सवाल उस के सीखते रहने के प्रमाण हैं।

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत प्‍यारी गुडिया है .. शुभकामनाएं !!

sanjay vyas ने कहा…

वेरा के सवाल आपके ज़रिये शायद हम सबसे हों.खैर,मुझे लगता है जिस तरह बुद्ध ने कुछ फालतू से दार्शनिक चिंतन के सवालों को 'अव्यक्तानि'कह कर उनका जवाब नहीं दिया हम इन ज़रूरी सवालों के साथ भी ऐसा कर सकते है.बड़े होने का अधिकार जो हमारे पास है:)
वेरा को ढेर सारा प्यार.वेरा, आप बहुत अच्छा गाती है.

विवेक सिंह ने कहा…

वेरा के सवालों का जवाब मन्नै कोन्या बेरा !

वेरा को जन्म दिन की बधाई !

शरद कोकास ने कहा…

वेरा का अभी सवेरा है और इससे पहले कि दोपहर हो उसे बतायें कि यह धूप कही छाया रामजी की माया नही है ।उसके अवचेतन को बनाना हम सभी का दायित्व है । और कई जगह तो हम भी आठ साल के बच्चे है जो जीवन भर आठ साल के ही बने रहते है । जन्मदिन पर लाड़दुलार प्यार ।

हिमांशु । Himanshu ने कहा…

’वेरा’ नाम ही कितना खूबसूरत है । वेरा सुनकर आलोक जी की कविता पुस्तक याद आ गयी - ’वेरा उन सपनों की कथा कहो ।"

वेरा को जन्मदिवस की शुभकामनायें ।

arun gopal ने कहा…

happy birthday Vera .

बोधिसत्व ने कहा…

वेरा विटिया को जन्म दिन पर बहुत सा आशीष...सवाल पूछती रहो...बेटी...

प्रेमलता पांडे ने कहा…

वेरा को जन्मदिन मुबारक हो।
शुभाशीष!

pawan meraj ने कहा…

अभी कल ही कि बात लगती है जब तुम छोटी सी थी और चल भी नहीं पाती थी....अब चलने के साथ-साथ तुम्हें उड़ने कि कोशिश करते देखना अनायास ही अपने बचपन कि याद दिला देता है ... अभी आठ साल में जो तुमने सवाल सीखे हैं, उन सवालों के जबाब ढूंढने में हमें काफी वक्त लगेगा और तुम्हारी मदद के बिना शायद हम ढुन्ढ भी न पायें.....तो वेरा चलती रहना...उड़ती रहना अपने नए नए सवालों कि खोज में....
तुम्हारा चाचू
पवन मेराज

पंछी (दूर.... देश के) ने कहा…

वेरा के जन्मदिन की शुभ कामनायें !
समझ में नहीं आया इन सवालों में मुश्किल क्या है जिसका जवाब आप नहीं दे पा रहे !!
बिटिया की जिज्ञासा शांत कीजिये।

neera ने कहा…

वेरा के प्रश्नों को पढ़ माल्कम एक्स की याद आ गई -
if you educate a boy, you educate an individual, if you educate a girl, you educate a family...
उसने तो पढाने का काम अभी से शुरू कर दिया... उसकी पहचान ही उसका सरनेम होगी.. इस आर्शीवाद के साथ परिवार को ढेर सारी शुभकामनाएं..

विजय प्रताप ने कहा…

वेरा के सवाल के जवाब से पहले हमें ये सोचना होगा उसके पास ये सवाल आये कहाँ से. सोचे की इतनी छोटी सी उम्र में ही बच्चों को स्कूल और दोस्तों से जात-पात सब का पता चल जा रहा है. वेरा को जन्मदिन की शुभकामनाए !

Geet Chaturvedi ने कहा…

वेरा को जन्‍मदिन की ढेर सारी शुभकामनाएं.

varsha ने कहा…

वेरा ke liye ananya shubhkamnaen. vah bahut amajhdar hai..sawalon ke jawab bahut zaldi dhoondh legi.

कोपल कोकास ने कहा…

बहुत अच्छा लिखा है आपने । कोपल कोकास